नेताओं के राज में हर कोई परेशान..

  • मीना मौर्य {मशाल} | 24 November 2020
Zeeshan

सत्ता का दुरुपयोग

शिकायते दर-दर करके हार गया इंसान। नेताओं के राज में हर कोई परेशान।। मन-मानी खूब करें वो जिनकी हो सरकार। वर्षों से जनता को लूटे नियत है बरकरार।। विवादों का चोला पहने दामन दागदार। जाल- साझी में लिप्त खूब फैलाएं भ्रष्टाचार।। सत्ता का दुरुपयोग करते ना रुके अत्याचार। जनता के जान से खेले कहलाए रखवार।। नकली -असली में छुपा सारा काला बाजार। काली- करतूत बढ़ती रहे इनकी लागातार।। भ्रष्ट नेता दानव प्रकृति न घुस से करें इनकार। रिश्वत खा -खा कर लगाते जनता का दरबार।। अपराधी कल तक थे अब सत्ता के हिस्सेदार। झूठ का पापड़ बेले कहलाते ईमानदार।।


whatsapp


More News