कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल बिजली समस्याओं को लेकर केस्को एमडी से की मुलाकात...

  • मानव टुडे | 03 2020
Zeeshan

संजय मौर्य

कानपुर | महानगर कॉंग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हर प्रकाश अग्निहोत्री के नेतृत्व में कॉंग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने आज  केस्को मुख्यालय में प्रबंध निदेशक से भेंट कर बिजली बिलों में हो रही अनियमितताओ एवं अघोषित कटौती के सम्बन्ध में ज्ञापन देकर मांग की कि यदि बिजली उपभोक्ताओं को तत्काल राहत न मिली काँग्रेस केस्को के विरुद्ध कड़ा आंदोलनात्मक कदम उठाने को विवश होगी। ज्ञापन में कहा गया है कि लगभग 4 माह से लॉकडाउन के कारण आम जनता परेशान है। लोगों के कारोबार और व्यापार पूरी तरह ठप्प है और सभी औद्योगिक इकाइयां व छोटे मोटे कारखाने बंद पड़े हैं। लोगों के सामने अपने परिवार के भरण पोषण की गम्भीर समस्या व्याप्त है। ऐसी संकट की स्थिति में केस्को द्वारा मनमाने तरीके से 3-3 माह का बिल बिजली उपभोक्ताओं को भेज कर अनाप सनाप वसूली की जा रही है। जो अन्यायपर्ण है।          ज्ञापन में प्रदेश सरकार के उस घोषणा की जिसमें उसने कहा था कि लॉकडाउन के दौरान राज्य सरकार बिजली बिलों में लगने वाले सरचार्ज में छूट देगी कि याद दिलाते हुए कहा गया है कि सरकार की मंशा के विपरीत केस्को बिलों पर सरचार्ज लगा कर जनमानस को राहत देने के बजाय उत्पीडित करने का काम कर रहा है।       कहा गया है कि लॉकडाउन की अवधि के दौरान लगभग 3 माह तक जब सारे उद्योग, व्यापारिक प्रतिष्ठान और कारखाने बंदो अप्रत्याशित रूप से बिजली बिलों में बढ़ोत्तरी किस प्रकार हो सकती है। यह समझ से परे है।  बिजली उपभोक्ताओं को लूटने की नीयत से तीन माह का बिल एक साथ बनाकर और सरचार्ज लगाकर भेजा जा रहा है जो सरासर गलत व अन्यायपूर्ण है। ज्ञापन में यह भी कहा गया है कि 3 माह का बिल एकसाथ बना कर उस पर सरचार्ज और फिक्स चार्ज लगा देने से यूनिट स्लैब में भारी अन्तर आ जाता है और इससे बिजली मूल्यों में अप्रत्याशित रूप से बढोतरी हो जाती है। जिसे इस संकट के दौर में वहन कर पाना उपभोक्ताओं के लिए बेहद कठिन है। जबकि आम नागरिक अपने परिवार की रोजीरोटी के लिए जद्दोजहद कर रहा है ऐसी स्थिति में अगर यनिट स्लैब प्रत्येक माह के हिसाब से बिजली का मूल्य निर्धारित किया जाये तो इससे उपभोक्ताओं को काफी राहत मिलेगी। ज्ञापन में मांग की गई है कि लॉकडाउन अवधि के लगभग 3 माह का सरचार्ज और फिक्स चार्ज समाप्त किया जाये। बिजली बिल माहवार बनाया जाये। बने हुए बिलों को तत्काल संशोधित किया जाये। भीषण गर्मी के बावजूद केस्को द्वारा अघोषित बिजली कटौती किये जाने से आम जनमानस गर्मी की मार ही झेल रहा है और बच्चे और बुजर्ग गर्मी से पीड़ित है, इसलिए निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करायी जाये। इस अवसर पर कानपुर महानगर काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री हर प्रकाश अग्निहोत्री ने चेतावनी देते हुए कहा कि आम जनता के साथ केस्को द्वारा की जा रही लूट और अनियमितता पर यदि तत्काल रोक न लगी तो कानपुर काँग्रेस केस्को के विरुद्ध कड़ा आंदोलनात्मक कदम उठाने को विवश होगी, जिसकी सारी जिम्मेदारी केस्को प्रशासन की होगी. प्रतिनिधि मंडल मे प्रमुख रूप से इकबाल अहमद, अशोक धानविक, राजकुमार शुक्ला, ग्रीन बाबु सोनकर, गुलाब सिंह कोरी, सुबोध बाजपेई, ज़फ़र शाकिर व संदीप चौधरी आदि शामिल थे।                                                   


whatsapp


More News